बुराड़ी में एक घर में 11 लाशें : ये 11 पाइप खोल रहा है राज ,मामले को जानकर आप भी हो जाएंगे सन्न

Biggest News, Breaking News, DELHI

नई दिल्ली : बुराड़ी केस में हर पल नया खुलासा हो रहा है इस खुलासे को जानकर हर कोई सन्न है |अब भाटिया परिवारके घर में लगे 11 पाइप राज खोल रहें हैं |

दरअसल, भाटिया परिवार के घर में लगे इन पाइपों को मौत से जोड़कर देखा जा रहा है. क्योंकि घर में कुल 11 पाइप लगे हैं जो किसी इस्तेमाल के लिए नहीं लगाए गए हैं. पाइप को देखकर साफ होता है कि परिवार को अंधविश्वास जकड़ा हुआ था. क्योंकि घर में मरनेवालो की संख्या 11 है, और पाइप भी 11 लगे हैं. इसके अलावा मरने वालों में 7 महिलाएं और 4 पुरुष हैं. जबकि घर की दीवार में लगे 11 पाइपों में से 7 मुड़े हैं और 4 सीधे हैं.

बताया जा रहा है कि 7 पाइप महिलाओं के लिए उपयोग में लाया गया है और 4 पुरुषों के लिए |चुकि महिलाएं ज्यादा लिप्त थी पूजा पाठ में इसलिए 7 पाइप को मोड़ दिया गया था और पुरुष काम काज में व्यस्त होने के कारण उतना लीं नहीं रहते थे पूजा पाठ में इसलिए 4 पाइप को सीधा रखा गया है |


 

पुलिस सूत्रों के मुताबिक परिवार की मुखिया नारायणी देवी अलग कमरे में लेटी मिली थीं. बेटा भुवनेश उर्ऱफ भूपी और ललित, उनकी पत्नियां और बच्चे छत में लगी लोहे की जाली से लटके थे. नारायणी देवी की बेटी और नातिन खिड़की से लटके हुए थे. भुवनेश और ललित के अलावा सभी के हाथ मजबूती से बंधे थे.

रजिस्टर में पहली एंट्री नवंबर 2017 की है जबकि आखिरी एंट्री 25 जून की है. रजिस्टर में लिखा था- सभी इच्छाओं की पूर्ति हो. जिस तरह की बातें रजिस्टर के पन्नों पर लिखी हुई हैं उनसे लग रहा है कि या तो ये पूरी क्रिया किसी मनोकामना को पूरा करने के लिए की गई, या फिर सामूहिक जान देने के पीछे वजह मोक्ष की इच्छा है. रजिस्टर में भी ऐसा कुछ लिखा होने की बात बताई जा रही है.

Leave a Reply