फर्जी केस दर्ज करवा लालू की सेवा करने जेल पहुचें उनके ये दोनों सेवादार

Biggest News, BIHAR, Breaking News

रांची : 23 दिसंबर 2017 को जब सीबीआई कोर्ट में सुनवाई के दौरान लालू को जेल भेजने का अंदेशा बना, तो उनके चाहने वालों ने आनन-फानन में मदन और लक्ष्मण को जेल पहुंचा कर उनकी सेवा करने का रास्ता तैयार कर दिया। दोनों के खिलाफ लोअर बाजार थाने में धारा 341, 323, 504, 379, 34 के तहत केस दर्ज किया गया है। दोनों का पता गंगा खटाल, हिनू साकेत नगर बताया गया है।

– मदन और लक्ष्मण के जेल जाने के लिए एक फर्जी मारपीट का मामला गढ़ा गया। मदन ने पड़ोसी सुमित यादव को इसके लिए तैयार किया। उसने मदन और लक्ष्मण पर मारपीट कर 10 हजार रुपए लूटने का आरोप लगाते हुए डोरंडा थाने में शिकायत की। डोरंडा टीआई आबिद खान को शक हुआ और उन्होंने एेसे हल्के मामले में गिरफ्तार कर जेल भेजने से इनकार कर दिया। फिर तीनों लोअर बाजार थाने पहुंचे।- सुमित यादव की थाने में दी गई शिकायत के मुताबिक, बकाए पैसे की मांग करने पर मदन और लक्ष्मण ने सुमित के साथ मारपीट व गाली-गलौज की और पॉकेट में रखे 10 हजार रुपए निकाल लिए।

– शिकायत मिलते ही थाने में एफआईआर दर्ज हुई और पहले से तैयार वकील ने थाने की कॉपी निकाल आनन-फानन में सीजेएम कोर्ट में मदन-लक्ष्मण को सरेंडर करवा दिया। उस दिन लालू करीब 4.30 बजे जेल पहुंचे। जबकि, उनके बाद दोनों आरोपी 2.30 बजे ही जेल पहुंच गए थे।

Leave a Reply