आलिया ने पढ़ा गीता तो मुस्लिम मौलाना ने बताया मुस्लिम विरोधी

Biggest News, Breaking News, UTTAR PRADESH

न्यूज़ डेस्क : आज कल मुस्लिम मौलाना अपने मन मर्जी के कर रहें हैं |हर छोटी छोटी बातों पर फतवा निकाल देतें है |उत्तर प्रदेश के मेरठ में आयोजित हुई इस प्रतियोगिता में आलिया ने भगवान श्रीकृष्ण का रूप धारण करके गीता के संस्कृत श्लोक गायन किया था। दारुल उलूम के ऑनलाइन फतवा विभाग के चेयरमैन मुफ्ती अरशद फारुकी ने एेसा करने को इस्लाम विरोधी बताया है। उन्होंने कहा कि किसी भी स्कूल की मुस्लिम बच्ची या बच्चे द्वारा एेसा रूप रखना इस्लाम के खिलाफ है। इसकी इजाजत नहीं दी जा सकती। एेसी बातें या ड्रामों में मुस्लिम बच्चों को शामिल न करें जो उनके मजहब के खिलाफ हों।

मुफ्ती के इस बयान पर आलिया ने कहा कि वह पहले हिंदुस्तानी है और उनसे गीता पाठ करके अपना धर्म नहीं त्यागा है। आलिया ने कहा कि जो लोग इसे मुद्दा बनाकर राजनीति करना चाहते हैं, वह मुस्लिम समाज के लिए अलग से स्कूल खुलवाएं। उन्होंने कहा कि मुझ पर राय देने से पहले शाहरुख खान, सलमान खान, अली जफर, गीता गर्ल मरियम पर भी अपनी राय दें। उन्होंने कहा कि गीता धार्मिक किताब नहीं है। वह कर्म का ज्ञान देती है, जैसे हमारे यहां नेकी कर दरिया में डाल। यही गीता हमें सिखाती है। उन्होंने कहा कि मैंने ज्ञान के लिए गीता का पाठ किया है और यह हम किसी भी धर्म से ले सकते हैं। आलिया ने कहा कि ग्रंथ हमें इंसानियत सिखाते हैं और मैंने वही किया है। रूप धारण कर लेने से मेरा धर्म नहीं बदलेगा।

Leave a Reply