बैंक मैनेजर की मनमानी पासबुक Up to date करने में करते हैं आनाकानी

Begusarai, BIHAR

बेगूसराय : बिहार ग्रामीण बैंक मुख्य शाखा बेगूसराय के स्टाफ से मैनेजर तक ने ठान लिया है कि बैंक के कोर बैंकिंग का लाभ ग्राहक को नहीं देना है |  कुछ कस्टमर के शिकायत पर जब समाचार एक्सप्रेस के संवाददाता ने अपनी पहचान छुपाकर एवं कस्टमर बनकर जब  मैनेजर से  पुछा कि  बेगूसराय  मुख्य शाखा के अंतर्गत आने वाले दूसरी शाखा के पासबुक आपके यहाँ क्यों नहीं अपटूडेट होता है तो मैनेजर ने कहा यह व्यवस्था छ: महीने से बंद हो गया है | सिर्फ अपने शाखा के पासबुक को   Up to date करते हैं |  फिर संवाददाता ने पूछा कि कोर बैंकिंग होने का क्या मतलब ? मैनेजर ने कहा, सरकार को क्या लगता है  वह तो ऑर्डर कर देती है,  दंश  झेलना पड़ता है बैंक स्टाफ को | पुनः संवाददाता ने पुछा कि  दंश  झेलने का क्या मतलब ? उसने कहा कि दुसरे शाखा का घाव अपने माथा  क्यों  लूँ ? जिस ब्रांच का अकाउंट या पासबुक है वो वहाँ ही लेनदेन करें या पासबुक Up to date करावें |

Leave a Reply