दंगा पीड़ित शहर गोधरा की मुश्किल सीट ऐसे जीत पाई बीजेपी

Biggest News, Breaking News, Gujrat

नई दिल्ली : गुजरात विधानसभा चुनाव में इस बार सबसे चर्चित सीटों में से एक गोधरा  सीट भी रही। यहां कांग्रेस छोड़ बीजेपी का दामन थामने वाले सी. के. राउलजी ने कांग्रेस के राजेंद्र सिंह परमार को 258 वोटों के मामूली अंतर से शिकस्त दी। पिछले दो बार (2007 और 2012) कांग्रेस की ओर से सी. के. राउलजी ने इस सीट पर जीत दर्ज की थी।

ऐसे में इस बार कांग्रेस को शिकस्त देने के लिए बीजेपी ने खास रणनीति बनाई। कांग्रेस को चौंकाते हुए राउलजी को बीजेपी ने टिकट दिया और फिर सारा सियासी खेल ही बदल गया। गोधरा में पांच मुस्लिम कैंडिटेट भी मैदान में थे, इससे बीजेपी को फायदा ही हुआ।

गोधरा में सी. के. राउलजी और राजेंद्र सिंह परमार के बीच कड़ी टक्कर देखने को मिली। राउलजी को बीजेपी के वोटरों पर भरोसा था तो परमार को 23 फीसदी मुस्लिम और ओबीसी वोटरों पर। हालांकि सारा खेल बिगाड़ दिया पांच मुस्लिम प्रत्याशियों ने। मुख्तार अंसारी, एम दीवान, इनायत खान पठान, वसीम बाना और जुबेर उमरजी ने मिलकर 4331 वोट निकाल लिए। इससे राउलजी 258 वोटों के मामूली अंतर से जीतने में कामयाब रहे।

Leave a Reply