मैक्स अस्पताल पर गिरी गाज, दिल्ली सरकार ने लाइसेंस किया कैंसल

Biggest News, Breaking News, DELHI

नई दिल्ली : हर राज्य में सरकारी अस्पताल की हालत तो बदतर है ही लेकिन अगर नामी प्राइवेट अस्पताल भी इसमें लापरवाही बरते तो जनता का सरकार के हेल्थ सिस्टम पर से ही भरोसा उठ जाएगा |जिंदा बच्चे को मृत बताने वाले दिल्ली के शालीमार बाग स्थित मैक्स अस्पताल  का दिल्ली सरकार ने शुक्रवार को लाइसेंस रद्द कर दिया है। राज्य सरकार के पास आई शुरुआती रिपोर्ट में मैक्स अस्पताल को दोषी पाया गया था। 

सरकार ने इस रिपोर्ट पर कार्रवाई करते हुए मैक्स अस्पताल का लाइसेंस रद्द कर दिया है। दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येन्द्र जैन ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, ‘नवजात बच्चे को मृत बताने वाले शालीमार बाग स्थित मैक्स अस्पताल का लाइसेंस हमने कैंसल कर दिया है। यह लापरवाही स्वीकार्य नहीं थी।’

बता दें कि शालीमार बाग स्थित मैक्स अस्पताल में ऑपरेशन के जरिए एक 6 महीने की गर्भवती महिला वर्षा ने जुड़वा बच्चों को जन्म दिया था। अस्पताल ने दोनों बच्चों को मृत बताकर ‘शवों’ को पॉलिथिन में लपेटकर परिजनों को सौंप दिया था। बाद में अंतिम संस्कार के लिए ले जाते वक्त परिजनों ने एक बच्चे में हरकत देखी, जिसके बाद नवजात को एक दूसरे हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया लेकिन कुछ दिन बाद उस नवजात की भी मौत हो गई।

Leave a Reply