पटना से दिल्ली जा रहे थे आलोक , राजधानी एक्सप्रेस में निगल गए लोहा, समोसा में था

Biggest News, BIHAR, Breaking News, DELHI, Patna

ट्रेन की पेंट्रीकार के खाने की गुणवत्ता एक बार फिर सवालों के घेरे में है. पटना राजधानी एक्सप्रेस में सफर कर रहे एक यात्री की तबीयत उस वक्त बिगड़ गई, जब उसने समोसे के साथ लोहे का तार निगल लिया. सूचना मिलने पर यात्री को सेंट्रल स्टेशन पर उपचार देकर आगे रवाना किया गया. पटना निवासी आलोक राज शनिवार को राजधानी एक्सप्रेस में सफर कर रहे थे. अलीगढ़ के आगे उन्होंने पेंट्रीकार से समोसा खरीदकर खाया.

जानकारी के मुताबिक समोसा खाने के दौरान उन्हें कुछ अजीब सा लगा, उन्होंने देखा तो आलू के साथ लोहे के तार भी थे. थोड़ा समोसा वह खा चुके थे और कुछ तार पेट के अंदर पहुंच गया था. उन्हें दिक्कत होने लगी. रात करीब साढ़े 11 बजे ट्रेन कानपुर पहुंची. सूचना पर एक डॉक्टर कोच में पहुंचे और आलोक को दवाएं दीं. दवा खाने के बाद उनकी हालत में कुछ सुधार हुआ. उन्हें पटना पहुंचने के बाद इन परिस्थितियों में लगने वाले एक इंजेक्शन लगवाने की सलाह दी गई है.

बता दें कि यह कोई पहला मामला नहीं हो जब राजधानी एक्सप्रेस की ट्रेन में खराब खाना मिला हो. इससे पहले नई दिल्ली-पटना राजधानी एक्सप्रेस ट्रेन में ही एक मामला सामने आया था. राजधानी एक्सप्रेस में खाने की गुणवत्ता को लेकर यात्रियों ने हंगामा किया था. खराब खाने से नाराज यात्रियों में बिहार के अनुसूचित जाति-जनजाति कल्याण मंत्री रमेश ऋषिदेव भी थे. उनकी शिकायत थी कि चिकेन कच्चा था और अंडा भी सही नहीं था.

खराब खाना परोसे जाने के बाद मंत्री रमेश ऋषिदेव ने कैटरिंग मैनेजर को बुलवाया. हद तो यह रही कि बुलावे के 40 मिनट तक कोई नहीं आया. इसके बाद उन्हें कंप्लेन बुक उपलब्ध कराई गई. तब उन्होंने संबंधित शिकायत दर्ज कराई. मंत्री के अलावा बी 3 समेत तीन अन्य कोच के एक दर्जन से अधिक यात्रियों ने भी कच्चा खाना परोसे जाने की शिकायत कंप्लेन बुक में दर्ज कराई.

बता दें कि अभी कुछ ही दिन पहले गंदे खाने को लेकर रेलवे कई बार फिर एक्सपोज हुआ था. भारत के पूर्व रेल मंत्री को ही रेलवे ने कचरा वाला जूस सर्व कर दिया था. यह गंदा जूस उन्हें शताब्दी एक्सप्रेस में परोसा गया था. ऐसे में राजधानी एक्सप्रेस में हुई इस घटना ने एक बार फिर से इंडियन रेलवे पर सवाल खड़े कर दिए हैं.

Leave a Reply