एसबीआई क्लर्क एग्जाम भर्ती में सुप्रीम कोर्ट के नियम का हो रहा उल्लंघन

Biggest News, Breaking News, EDUCATION

एजुकेशन डेस्क : एसबीआई क्लर्क एग्जाम भर्ती में सुप्रीम कोर्ट के नियम का उल्लंघन हो रहा है |सुप्रीम कोर्ट में एसबीआई के भर्ती प्रकिर्या पर सवाल उठा रहा है | पर अन्य बैंक परीक्षाओं में मिनिमम मार्क्स का नियम मौजूद है। हाल में हुई प्रोबेशनरी अफसर (पीओ) भर्ती में एसबीआई ने ऐसी गड़बड़ी की थी। अफसरों ने एग्जाम के ऐड में तो हर सेक्शन में मिनिमम मार्क्स की अनिवार्यता रखी, पर सिलेक्शन करते समय अचानक इसे दरकिनार कर दिया। हाईकोर्ट ने इसपर नाराजगी जताई और सुनवाई कर रहा है।

– सूत्रों की मानें तो बैंक ने कोर्ट की र्कारवाई से बचने के लिए व्यवस्था ही बदल दी है। हालांकि बैंक का कहना है कि उसे सही कैंडिडेट मिल नहीं रहे।

– वहीं, इस मामले में एसबीआई अधिकारियों ने बयान देने से मना कर दिया। एसबीआई चेयरमैन और एग्जाम की मॉनिटरिंग करने वाले विभाग को ईमेल भी किया गया। मगर कोई जवाब नहीं आया।

 

– सुप्रीम कोर्ट 2011 में तय कर चुका है कि किसी भी परीक्षा में योग्य कैंडिडेट्स का ही सिलेक्शन किया जाना चाहिए।

– सुप्रीम कोर्ट के एडवोकेट जसवीर शेरगिल का कहना है कि यदि कोई व्यक्ति गणित या अन्य विषय में मिनिमम मार्क्स तक नहीं ला पाता तो वह योग्य कैसे हो सकता है। ऐसे में एसबीआई द्वारा मिनिमम क्वालिफाइंग मार्क्स हटाया जाना सुप्रीम कोर्ट के आदेश का उल्लंघन है।

Leave a Reply