हिंदुस्तान के इस रेलवे स्टेशन पर जाने के लिए जरुरी होता है पासपोर्ट और वीजा नहीं तो भुगतनी पड़ेगी कड़ी सजा

Biggest News, Breaking News, WORLD

 न्यूज़ डेस्क :  क्या आप जानते हैं देश में एक रेलवे स्टेशन ऐसा भी है जहां जाने के लिए वीजा की जरूरत पड़ती है। इस बात को स्वीकार कर पाना थोड़ा मुश्किल हो सकता है लेकिन वास्तव में ऐसा ही है। जी हां, इस स्टेशन पर बिना वीजा के जाना गैर कानूनी माना जाता है।

बता दें ये देश का इकलौता ऐसा रेलवे स्टेशन है, जहां वीजा अनिवार्य है। अंतरराष्ट्रीय एयरकंडीशनर इस रेलवे स्टेशन का नाम अटारी है। यहां पर जाने के लिए पाकिस्तानी वीजा अनिवार्य कर दिया गया है। खुफिया व सुरक्षा एजेंसियों से 24 घंटे घिरे इस रेलवे स्टेशन पर बिना वीजा पहुंचने वाले देश के किसी भी नागरिक को 14 फॉरेन एक्ट (बिना वीजा के इस रेलवे स्टेशन पर आने का आरोप) के तहत मामला दर्ज होता है। जिसकी जमानत बड़ी मुश्किल से होती है। इस रेलवे स्टेशन से देश की सबसे वीवीआईपी ट्रेन समझौता एक्सप्रेस को हरी झंडी दिखाई जाती है। यह देश का पहला रेलवे स्टेशन है जहां ट्रेन को हरी झंडी दिखाने के लिए सीमा शुल्क विभाग के साथ-साथ ट्रेन में बैठे मुसाफिरों से इजाजत ली जाती है। इस रेलवे स्टेशन से हर रेलवे टिकट खरीदने वालों का पासपोर्ट नंबर लिखा जाता है और उन्हें कन्फर्म सीट मिलती है।

इस रेलवे स्टेशन पर कुलियों की मनाही है। मुसाफिर को अपना सामान खुद उठाना पड़ता है जिसके लिए स्पेशल ट्रालियां सभी मुसाफिरों के लिए उपलब्ध हैं। वातानुकूलित वेटिंग रूम में देशभक्ति गीत एलईडी पर दिखाई देते हैं और खान-पान ऐसा कि आप एकबार चख लें तो स्वाद जिन्दगीभर नहीं भूल पाएंगे। इस रेलवे स्टेशन की पल-पल की जानकारी रेलवे मुख्यालय (बड़ौदा हाउस, दिल्ली) में होती है। सुरक्षा में चौबीस घंटे जवान तैनात रहते हैं।


इस रेलवे स्टेशन से किन्हीं कारणों से ट्रेन अगर लेट हो जाती है तो इसके बारे में भारत-पाकिस्तान दोनों मुल्कों में रजिस्टर पर एंट्री होती है। पंजाब पुलिस रेलवे स्टेशन के चारों तरफ पहरा देती है। फोटोग्राफी करना मना है। रेलवे स्टेशन आरपीएफ, जीआरपी, बीएसएफ समेत खुफिया व सुरक्षा एजेंसियों के पहरे में रहता है। पर्यटक दूर से रेलवे स्टेशन देख सकते हैं। अगर रेलवे स्टेशन के अंदर जाना है तो आपको गृहमंत्रालय के अलग-अलग विभागों से इजाजत लेनी होगी।

Leave a Reply